Sunday, February 06, 2011

दीपक

When I was there, Hari was not.
When Hari was there, I was not.
However, all the darkness was mitigated when I saw the light within.


जब मैं था तब हरी नही
अब हरी है मैं नाही
सब अंधियारा मिटि गया
जब दीपक देख्या माहि

Post a Comment

विवाह उपरांत पढ़ाई

अनुप्रिया पढ़ने में होशियार थी। हर वर्ष स्कूल में प्रथम स्थान पर रहती थी। पढ़ाई के प्रति उसकी लगन कॉलेज में भी कम नही हुई। उसकी इच्छा दिल्ल...