Saturday, January 28, 2012

Soft Spoken


Be soft spoken, do away with your ego. This shall keep you in a good mood & others shall be happy too.

 ऐसी बानी बोलिये
मन का आपा खोए
अपना तन शितल करे
औरों को सुख होए
Post a Comment

दस वर्ष बाद

लगभग एक वर्ष बाद बद्री अपने गांव पहुंचा। पेशे से बड़ाई बद्री की पत्नी रामकली गांव में रह रही थी। बद्री के विवाह को दो वर्ष हो चुके थे। विवा...