Friday, October 11, 2013

मायूसी

मायूसी

सोचा था मेले में आनन्द मिलेगा ।
मगर धक्कों से मायूसी मिली ।।

तमाम शहर में पता पूछ कर जब उसके घर पहुंचा ।

वो तब तक वहां से कूच कर चुका था ।।
Post a Comment

दस वर्ष बाद

लगभग एक वर्ष बाद बद्री अपने गांव पहुंचा। पेशे से बड़ाई बद्री की पत्नी रामकली गांव में रह रही थी। बद्री के विवाह को दो वर्ष हो चुके थे। विवा...