Saturday, March 08, 2014

अनुवाद

सोम शंकर कोल्लूरि को मेरी कहानी ब्लू टरबन का तेलुगु में अनुवाद करने के लिए धन्यवाद। कहानी का लिंक है


I thanks Kolluri Soma Sankar for translating my story “Blue Turban” in Telugu.

Post a Comment

हुए हैं जब से शरण तुम्हारी

हुए हैं जब से शरण तुम्हारी , खुशी की घड़ियां मना रहे हैं करें बयां क्या सिफ़त तुम्हारी , जबां में ताले पड़े हैं। सु...