Sunday, April 13, 2014

रे मनवा बोलो


रे मनवा बोलो हरि हरि, नाम जपलो घडी घडी,
बडी किस्मत वाला है वो, श्याम की भक्ति जिसे मिली।।

वो है मुरली वाला, वही है भक्तों का रखवाला,
वही सांवरिया गिरधारी, जायें जिसपे सब बलिहारी,
रे मनवा बोलो हरि हरि, नाम जपलो घडी घडी।

वही है सबका पालन हारा, वही करता भव सागर पार,
उसी का नाम लगे प्यारा, कन्हैया है सबका न्यारा,
रे मनवा बोलो हरि हरि, नाम जपलो घडी घडी।

उसी के प्यारे प्यारे नाम, कन्हैया मोहन और घनश्याम,
वही है पीताम्बरधारी, नाम की महिमा है भारी भारी,
रे मनवा बोलो हरि हरि, नाम जपलो घडी घडी।

राजेश्वर आया मैं शरण तेरी, पार करो भवसागर भारी,
दीनबन्धु है दीनानाथ, तमन्ना ये कर दो पूरी,
रे मनवा बोलो हरि हरि, नाम जपलो घडी घडी,

बडी किस्मत वाला है वो, श्याम की भक्ति जिसे मिली।।

(परंपरागत भजन)
Post a Comment

मौसम

कुछ मौसम ने ली करवट दिन सुहाना हो गया रिमझिम बूंदें पड़ने लगी आषाढ़ में सावन आ गया गर्म पानी भाप बन कर उड़ गया ...