Sunday, September 28, 2014

जिन्दगी एक गुलाब


आओ जिए ज़िन्दगी को
ज़िन्दगी तो एक गुलाब है।
आओ जिए ज़िन्दगी को
जो गुलाब के अनेक रंग लिए है।
आओ जिए ज़िन्दगी को
जो गुलाब की तरह खुशबू देती है।
आओ जिए ज़िन्दगी को
जो सबका हसीन ख्वाब है।
आओ जिए ज़िन्दगी को
जिसमें खुशी के साथ दुःख भी हैं।
आओ जिए ज़िन्दगी को
गुलाब में कांटे ज़िन्दगी के दुःख है।
आओ जिए ज़िन्दगी को
गुलाब की खुशबू जीवन की ख़ुशी है।
आओ जिए ज़िन्दगी को
ज़िन्दगी तो एक गुलाब है।।


Post a Comment

हुए हैं जब से शरण तुम्हारी

हुए हैं जब से शरण तुम्हारी , खुशी की घड़ियां मना रहे हैं करें बयां क्या सिफ़त तुम्हारी , जबां में ताले पड़े हैं। सु...