Tuesday, October 07, 2014

दिल खोल लिया होता

एक गहरी बात छुपी होती है
जब कोई कहता है – पता नही।
एक समन्दर छुपा होता है बातों का
जब कोई खामोश रहता है।
एक सच छुपा होता है
जब कोई कहता है – मजाक था यार।
एक फीलिंग छुपी होती है
जब कोई कहता है – इट्स ओके।
इक जरूरत छुपी होती है
जब कोई कहता है – मुझे अकेला छोड दो।

इसीलिए ओपन हॉर्ट सर्जरी यूनिट के बाहर लिखा हुआ था
अगर दिल खोल लिया होता अपने यारों के साथ,

तो आज खोलना नही पडता औजारों के साथ।
Post a Comment

मौसम

कुछ मौसम ने ली करवट दिन सुहाना हो गया रिमझिम बूंदें पड़ने लगी आषाढ़ में सावन आ गया गर्म पानी भाप बन कर उड़ गया ...