Monday, October 12, 2015

अज सारी दुनिया प्यारी है


अज सारी दुनिया प्यारी है, साडे सतगुरु तों प्यारा कोई नहीं।
जेरा कदम कदम ते रक्षा करे, गुरु वर्गा होर सहारा न।।
तेरी शोभा सुनके आ बैठी, मैं भी तक़दीर जगा बैठी,
जिस दिन तों चरण तेरे छुए नें, मेरा डुबिया कोई सितारा न।
अज सारी दुनिया प्यारी है, साडे सतगुरु तों प्यारा कोई नहीं।
जेरा कदम कदम ते रक्षा करे, गुरु वर्गा होर सहारा न।।

हर वेले ऐहौ मंग मंगिये, सेवा सुमिरन सत्संग करिये,
नित खुशियां मंगिये तेरे दर तो, फिर मिलदा जन्म दुबारा न।
अज सारी दुनिया प्यारी है, साडे सतगुरु तों प्यारा कोई नहीं।
जेरा कदम कदम ते रक्षा करे, गुरु वर्गा होर सहारा न।।

कर जिधर गुरु निगाह देवे, मेहरां डा मीं वर्षा देवे,
पत्थर विच कोई पल्या न, कोई ऐसा पालन हारा नहीं।
अज सारी दुनिया प्यारी है, साडे सतगुरु तों प्यारा कोई नहीं।

जेरा कदम कदम ते रक्षा करे, गुरु वर्गा होर सहारा न।।
Post a Comment

हुए हैं जब से शरण तुम्हारी

हुए हैं जब से शरण तुम्हारी , खुशी की घड़ियां मना रहे हैं करें बयां क्या सिफ़त तुम्हारी , जबां में ताले पड़े हैं। सु...