Friday, October 09, 2015

शिवस्तुति

शिवस्तुति

कर्पूरगौरं करूणावतारं, संसारसारं भुजगेन्द्रहारम ।
सदा वसन्तं ह्र्दयारविन्दे, भवं भवानी सहितं नमामि ।।

कर्पूर के समान गौर वर्ण, दया के अवतार, संसार के सार , सर्पों की माला धारण करने वाले तथा भक्तों के हृदय कमल में निवास करने वाले श्रीशंकर भगवान को भवानी सहित प्रणाम करता हूं।

Shiva Prayer


Complexion white like the camphor, compassion incarnate, the very essence of the world, having a garland of snake-monarch, residing always in the lotus-hearts (of His Devotees). I salute Bhava (Lord Shiva) in the company of Bhavani.
Post a Comment

मौसम

कुछ मौसम ने ली करवट दिन सुहाना हो गया रिमझिम बूंदें पड़ने लगी आषाढ़ में सावन आ गया गर्म पानी भाप बन कर उड़ गया ...