Saturday, June 11, 2016

मुझे चरणों से लगा ले


मुझे चरणों से लगा ले मेरे श्याम मुरली वाले
मेरे श्वास में तेरा है नाम मुरली वाले।

भक्तों की तुमने कान्हा विपदा है टाली
मेरी भी बांह थामों आकर तुम हे बनवारी
मेरे बिगड़े बनाये तुमने हर करम मुरली वाले
मुझे चरणों से लगा ले मेरे श्याम मुरली वाले
मेरे श्वास में तेरा है नाम मुरली वाले।

पतझड़ है जीवन मेरा बहार ले के आजा
सुन ले पुकार कान्हा एक बार तू बस आजा
बेचैन मन के तुम हो आराम मुरली वाले
मुझे चरणों से लगा ले मेरे श्याम मुरली वाले
मेरे श्वास में तेरा है नाम मुरली वाले।

तुम हो दया के सागर जन्मों की मैं हूं प्यासी
दे दो जगह मुझे भी चरणों में बस जरा सी
मेरी सुबह भी तुम ही हो शाम मुरली वाले
मुझे चरणों से लगा ले मेरे श्याम मुरली वाले
मेरे श्वास में तेरा है नाम मुरली वाले।

परंपरागत भजन
Post a Comment

मौसम

कुछ मौसम ने ली करवट दिन सुहाना हो गया रिमझिम बूंदें पड़ने लगी आषाढ़ में सावन आ गया गर्म पानी भाप बन कर उड़ गया ...