Monday, August 29, 2016

ऐसा बना दो प्रभु जीवन मेरा

हर पल में हो प्रभु सिमरन तेरा,
ऐसा बना दो प्रभु जीवन मेरा।

याद तेरी को मैं सदा दिल में बसाऊं,
आठों पहर प्रभु तेरे गीत गाऊं,
नाम तेरा ही होवे सच्चा धन मेरा।
हर पल में हो प्रभु सिमरन तेरा,
ऐसा बना दो प्रभु जीवन मेरा।

ख्वाहिशें जगत की मुझको सताएं,
चिंताएं हरगिज नजदीक आएं,
करता रहूं प्रभु चिंतन तेरा।
हर पल में हो प्रभु सिमरन तेरा,
ऐसा बना दो प्रभु जीवन मेरा।

जग में रहूं पर जग से आजाद रहूं,
सिवा तेरे किसी का मोहताज रहूं,
तेरे ही चरणों में सदा लगे मन मेरा।
हर पल में हो प्रभु सिमरन तेरा,
ऐसा बना दो प्रभु जीवन मेरा।

तेरी याद में मैं ऐसे खो जाऊं,
मैं रहूं बस तू ही तू रह जाए,
सफल हो जाए यह नर तन मेरा।
हर पल में हो प्रभु सिमरन तेरा,
ऐसा बना दो प्रभु जीवन मेरा।

परंपरागत भजन


Post a Comment

कब आ रहे हो

" कब आ रहे हो ?" " अभी तो कुछ कह नही सकता। " " मेरा दिल नही लगता। जल्दी आओ। " " बस...