Friday, November 18, 2016

गांव

गांव की बात करते हैं
देखने जाता कोई नही

जज्बात सबके जुड़े हैं
रहने जाता कोई नही

याद गांव की आती है

मुड़ कर देखता कोई नही
Post a Comment

दस वर्ष बाद

लगभग एक वर्ष बाद बद्री अपने गांव पहुंचा। पेशे से बड़ाई बद्री की पत्नी रामकली गांव में रह रही थी। बद्री के विवाह को दो वर्ष हो चुके थे। विवा...