Monday, November 28, 2016

जगत में कर्म बड़ा बलवान

जगत में कर्म बड़ा बलवान, जगत में कर्म बड़ा बलवान।
कर्मो का फल पड़े भोगना, कह गए वेद पुराण।
जगत में कर्म बड़ा बलवान, जगत में कर्म बड़ा बलवान।

जैसा-जैसा कर्म करोगे, वैसा ही फल पाओगे।
कभी जिओगे कभी मरोगे, यह अटल विधान।
जगत में कर्म बड़ा बलवान, जगत में कर्म बड़ा बलवान।

कोई बनाये राजा किसी को, कोई बनाये रंक किसीको।
आबाद किसीको बर्बाद किसीको, यही मान-अपमान।
जगत में कर्म बड़ा बलवान, जगत में कर्म बड़ा बलवान।

सुख-दुख है कर्मो की छाया, एक गया तो दूसरा आया।
यह सब है प्रभु की माया, यह अटल विधान।
जगत में कर्म बड़ा बलवान, जगत में कर्म बड़ा बलवान।



Post a Comment

नाराजगी

हवाई अड्डे पर समय से बहुत पहले पहुंच गया। जहाज के उड़ने में समय था। दुकानों में रखे सामान देखने लगा। चाहिए तो कुछ ...