Tuesday, May 16, 2017

तेरी रहमत के सदके

तेरी रहमत के सदके ये बन्दे तेरे
क्या से क्या हो गया देखते-देखते
कल जिनके मुकद्दर में कुछ भी नही था
बादशाह हो गए हैं देखते-देखते

तेरी नजर जिस पर भी पड़ी
वो बशर फिर कहीं पर रुकता नही
तेरी शक्ति की जिसने तौहीन की
वो फना हो गए देखते-देखते
तेरी रहमत के सदके ये बन्दे तेरे
क्या से क्या हो गया देखते-देखते
बादशाह हो गए हैं देखते-देखते
तेरी नजर जिस पर भी पड़ी


तेरे क़दमों में रख कर जो रो दिया
तूने करुणा से उसकी खत्ता बक्श दी
जिनके अंदर से मैं श्की बू गई
वो तबा हो गए देखते-देखते
तेरी रहमत के सदके ये बन्दे तेरे
क्या से क्या हो गया देखते-देखते
बादशाह हो गए हैं देखते-देखते
तेरी नजर जिस पर भी पड़ी

सारी दुनिया ने जिसको था ठुकरा दिया
तूने हंस कर गले से लगाया प्रभु
तेरी इस इक निगाह से दाता मेरे
वो खुदा हो गए देखते-देखते
तेरी रहमत के सदके ये बन्दे तेरे
क्या से क्या हो गया देखते-देखते
कल जिनके मुकद्दर में कुछ भी नही था
बादशाह हो गए हैं देखते-देखते
तेरी नजर जिस पर भी पड़ी

हर कर्म जिसका तेरी इबादत बनी
हर जगह तूने उसकी हिफाजत करी
तेरे नक़्शे कदम पर जो चल पड़े
वो खुदा हो गए देखते-देखते
तेरी रहमत के सदके ये बन्दे तेरे
क्या से क्या हो गया देखते-देखते
बादशाह हो गए हैं देखते-देखते

तेरी नजर जिस पर भी पड़ी
Post a Comment

मौसम

कुछ मौसम ने ली करवट दिन सुहाना हो गया रिमझिम बूंदें पड़ने लगी आषाढ़ में सावन आ गया गर्म पानी भाप बन कर उड़ गया ...