Friday, June 23, 2017

मौसम


कुछ मौसम ने ली करवट
दिन सुहाना हो गया
रिमझिम बूंदें पड़ने लगी
आषाढ़ में सावन गया
गर्म पानी भाप बन कर उड़ गया
नल में ठंडा पानी गया
सड़कों पर जलभराव जो हुआ
कार का इंजन बंद हो गया
बिना छाते के घर से निकले
जिस्म गीला गीला हो गया
कुछ मौसम ने ली करवट

आषाढ़ में सावन गया
Post a Comment

अकेलापन

सुबह के सात बजे सुरिंदर कमरे में समाचारपत्र पढ़ रहे थे उनके पुत्र ने एक वर्षीय पौत्र को सुरिंदर की गोद मे दिया। ...